kantaprasad mor mantri kalyan arogya sadan

श्री कान्ता प्रसाद मोर

संचालक मंडल के सर्वसम्मत निर्णय पर 14-10-2015 को श्री कान्ता प्रसाद मोर ने सदन मे मंत्री का दायित्व सम्भाला | जब श्री मोर ने सदन का दायित्व सम्भाला तब श्री कल्याण आरोग्य सदन काफ़ी कठिन दौर से गुजर रहा था |

सदन के मुख्य कार्यकारी मंत्री एंव दो सयुंक्त मंत्री तीनों ही 80 वर्ष की आयु पार कर चुके थे तथा तीनों ही रिटायर हो गये थे ऐसी स्थिति मे श्री मोर के लिए यह दायित्व एक बहुत बड़ी चुनौती थी |

लेकिन श्री कान्ता प्रसाद मोर ने अपना पूरा समय एंव ध्यान सदन की ओर केंद्रित किया एंव चुनौतियों पर काबू पाने मे सफल हुए |

सदन मे भर्ती रोगियों का पूरा इलाज नि:शुल्क होने की वजह से यद्यपि आय के स्त्रोतों मे ज़्यादा वृद्धि नही हुयी लेकिन दृढ़ वित्तीय अनुशासन से आर्थिक स्थिति मे काफ़ी सुधार हुआ है |

आज सदन के आउट डोर, होम्योपेथिक विभाग एंव दवा बिक्री केन्द्र का पूरा Cash Collection बेंक मे रोज जमा किया जाता है तथा खर्चों के लिए आवश्यक राशि चैक द्वारा निकाली जाती है |

श्री मोर एल. एल. बी. तक शिक्षित है तथा 20 वर्ष तक टेक्सेसन मे वकालत कर चुके है अत: वित्तिय नियंत्रण मे इनके अनुभव का लाभ भी सदन को मिला है | साथ ही कई शैक्षणिक संस्थाओं तथा 1958 मे स्थापित ग्राम भारती विद्यापीठ समिति का 2003 से मंत्री होने के नाते प्रशासनिक क्षमता भी अच्छी है |

श्री मोर अपनी समर्पित भावनाओं से सदन को नई ऊँचाइयों तक पहुँचाने का इरादा रखते है |

OFFICE LINE

1.800.555.6789

EMERGENCY

1.800.555.0000

WORKING HOURS

9:00am – 6:00pm